Trending

एमपी के पूर्व वित्तमंत्री के बेटे सिद्धार्थ मलैया की बीजेपी मे घर वापसी पांच मंडल अध्यक्ष भी शामिल हुए।

s

Damoh Today News : मध्यप्रदेश में विधानसभा चुनाव (mp election 2023) से पहले भारतीय जनता पार्टी (bjp) में घर वापसी का दौर जारी है। पूर्व वित्त मंत्री जयंत मलैया के बेटे सिद्धार्थ मलैया (siddharth malaiya) की आज भाजपा में घर वापसी हो गई। राजधानी भोपाल में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (cm shivraj) प्रदेश प्रभारी मुरलीधर राव (murlidhar rao) और प्रदेश अध्यक्ष बीडी शर्मा (vd sharma) की उपस्थिति में सिद्धार्थ मलैया को पार्टी की सदस्यता दिलाई गई। उनके साथ ही पांच मंडल अध्यक्षों की भी बीजेपी में वापसी हुई है सिद्धार्थ ने अपनी वापसी पर कहा पार्टी का आभार है कि मुझे दोबारा मौका दिया है।

उपचुनाव में किया था पार्टी ने निष्कासित :

आपको बता दे के दमोह में हुए 2021 के विधानसभा उपचुनाव में भाजपा प्रत्याशी राहुल सिंह को 17000 वोटों से हार का सामना करना पड़ा था और कांग्रेस प्रत्याशी अजय टंडन ये चुनाव जीता था, वही राहुल सिंह इस हार के लिए मलैया परिवार को जिम्मेदार ठहरा रहे थे। इसके बाद भाजपा ने पार्टी विरोधी गतिविधियों में शामिल होने को लेकर सिद्धार्थ मलैया को पार्टी से निष्कासित कर दिया था। सिद्धार्थ के साथ पांच मंडल अध्यक्षों को भी पार्टी ने प्राथमिक सदस्यता से निलंबित कर दिया था। हालांकि पूर्व मंत्री और उनके बेटे सिद्धार्थ मलैया ने प्रदेश अध्यक्ष बीडी शर्मा को इसका जवाब भी दिया था, लेकिन उनकी वापसी नहीं हो पाई थी।

इसके बाद एसे लगातार कयास लगाए जा रहे थे कि सिद्धार्थ की घर वापसी होगी, लेकिन ऐसा संभव नहीं हुआ और नगर पालिका चुनाव के दौरान सिद्धार्थ को भाजपा की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा दे दिया था। जिसके बाद शहर के 31 वार्ड में उनके समर्थकों ने tsm के बैनर तले चुनाव लड़ा था जिसमें से 5 प्रत्याशी पार्षद पद का चुनाव भी जीते थे और इसी के चलते दमोह में भाजपा की नगर पालिका ( damoh nagar palika ) मे सरकार नहीं बन पाई थी और कांग्रेस यहां काबिज हो गई थी।

विधानसभा चुनाव से पहले ने पार्टी ने लिया फेसला :

जिससे लगने लगा था कि पार्टी अपने पुराने कार्यकर्ताओं की हर हाल में वापसी करेगी और 2023 विधानसभा चुनाव के पहले समीकरण बदलेंगे और आज वही हुआ जब सिद्धार्थ सहित पांचों मंडल अध्यक्ष की वापसी हो गई इसके अलावा उन लोगों की वापसी की जाएगी जिन्होंने नगर पालिका चुनाव के दौरान पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा दिया था। सिद्धार्थ माल्या की भाजपा में वापसी के बाद सोशल मीडिया पर उनके समर्थक काफी खुशी मना रहे हैं और लिख रहे हैं कि एक ना एक दिन तो यह होना ही था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button