Trending

दमोह पहुंचे भीम आर्मी चीफ चंद्रशेखर आजाद उर्फ रावण, पुलिस और प्रशासन पर अत्याचार करने के लगाए आरोप

दमोह। जिले में देहात थाना के देवरान गांव में 25 अक्टूबर को एक दलित परिवार के तीन लोगों की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। प्रदेश भर में मामले को लेकर खासा रोष देखा गया। वहीं, मंगलवार को भीम आर्मी चीफ चंद्रशेखर आजाद रावण भी दलित परिवार से मिलने पहुंचे।

भीम आर्मी चीफ चंद्रशेखर आजाद उर्फ रावण मंगलवार दोपहर दमोह पहुंचे, यहां पहुंचते ही उन्होंने पुलिस और प्रशासन के अधिकारियों पर राजनीति करने और दलितों पर अत्याचार करने के आरोप लगाए हैं। उन्होंने यह भी कहा कि कुर्सी पर बैठकर राजनीति करने वाले अधिकारी खाकी उतारकर खादी पहन लें।

chandra shekhar ravan

उन्होंने कहा कि दमोह जिले में दलितों पर लगातार अत्याचार हो रहे हैं। जब देश आजाद था, तब तो ठीक था, लेकिन आजाद भारत में भी इस तरह के काम हो रहे हैं, जो कि निंदनीय है। रावण 25 अक्टूबर को देवरान में हुए हत्याकांड में मारे गए परिवार के परिजनों से मिले और उनकी बातें सुनी। वह चाहते हैं कि दलितों पर अत्याचार बंद हो। पुलिस और प्रशासन पूरी तरह निष्क्रिय है। एक ही परिवार के तीन लोगों की हत्या होना यह साबित करता है कि दमोह में अपराधियों में कानून का कोई खौफ नहीं है।

सरकार का फेलियर है ये अपराध:

भीम आर्मी चीफ ने कहा कि इस तरह के अपराध सरकार का फेलियर है। भीम आर्मी की बढ़ती ताकत से सरकार डरी हुई है, इसीलिए उनकी पार्टी के कार्यकर्ताओं पर पुलिस झूठे मुकदमे दर्ज करा रही है। इसका जवाब जनता साल 2023 के चुनाव में देगी। यदि दमोह जिले में उनकी सत्ता होती, तो ये जो अत्याचार हो रहे हैं यह नहीं हो पाते। अधिकारी राजनीतिक भाषा बोल रहे हैं, उन्हें यह पता होना चाहिए कि वह जनता के नौकर हैं और यदि उन्हें राजनीति करनी है, तो खाकी उतारकर खादी पहन लें।

SP ने कहा नियमानुसार की गई है कारवाई:

एसपी डीआर तेनीवार ने कहा कि खादी उतारकर खादी पहनने का जो वक्तव्य रावण ने दिया है, वो उनकी व्यथा है। इस बारे में वही ठीक से बता पाएंगे। रही कार्रवाई की बात, तो पुलिस की ओर से नियमानुसार कार्रवाई की गई है। पीड़ित परिवार को पूरी सुरक्षा मुहैया कराई है और पूरी कार्रवाई नियम अनुसार की जा रही है।

पूरी स्टोरी पढ़िए...

संबंधित ख़बरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button