पथरिया में अवैध शराब पकड़ने वाले भगवती मानव कल्याण संगठन के सदस्यों पर फर्जी एससी एसटी का मामला दर्ज

दमोह। दमोह जिले सहित पथरिया के आसपास ग्रामीण क्षेत्रों में अवैध शराब की बिक्री खुलेआम चल रही है तो वही पथरिया पुलिस द्वारा उक्त अवैध शराब विक्रेताओं के खिलाफ कोई ठोस कार्यवाही नहीं की जा रही है जिस कारण अवैध शराब माफियाओं के हौसले बुलंद होते जा रहे हैं तो वहीं पथरिया पुलिस की मिलीभगत के चलते यह अवैध शराब का धंधा पूरे क्षेत्र में जोर पकड़ रहा है तो वही नशा विरोधी अभियान के तहत भगवती मानव कल्याण संगठन के कार्यकर्ताओं द्वारा लगातार अवैध शराब पकड़ कर पुलिस को सुपुर्द की जा रही है एवं नशा के माफियाओं को जेल भेजा जा रहा है इसी कड़ी में 8 अक्टूबर की रात करीब 9:00 बजे संगठन के सदस्यों ने पथरिया के ग्राम रजवास के पास ब्रह्मदेव के समीप दो व्यक्तियों को करीब 4 पेटी अवैध शराब के साथ धर दबोचा एवं उन आरोपियों को पुलिस थाना पथरिया ले जाया गया जिनके पास से अवैध शराब करीब 192 पाव लाल मसाला कुल 4 पेटी अवैध शराब पकड़ाई गई तो वहीं आरोपी नीलेश रजक, गुड्डे विश्कर्मा पथरिया पुलिस द्वारा मामला दर्ज किया गया आरोपी अवैध शराब मोटरसाइकिल क्रमांक MP- 34 MJ9386 से लेकर जा रहे थे इस मोटरसाइकिल को भी जप्त किया गया जो मोटरसाइकिल कलू सींग गौंड निवासी बोतराई के नाम पर रजिस्टर्ड है लेकिन उक्त मामले में एफ आई आर दर्ज कराने संगठन के सदस्य रात्रि करीब 9:30 बजे से 1:30 तक पुलिस थाना पथरिया में मौजूद रहे।

लेकिन ताज्जुब तो जब हुआ जब सुबह पता चला कि संगठन के कार्यकर्ताओं पर ही बोतराई के जगदीश अहिरवार द्वारा एससी- एसटी के तहत मामला दर्ज कराया दिया गया जिसमें बताया गया कि रात्रि करीब 11:30 बजे उसके साथ मारपीट की गई। जगदीश अहिरवार की रिपोर्ट पर संगठन के सदस्य खिलान पटेल, गोलू, मनोज और राजेश पर एससी एसटी के तहत मामला दर्ज किया गया। जबकि संगठन के सदस्यों की माने तो रात्रि करीब 9:30 बजे से 1:30 बजे तक यह चारों पुलिस थाना पथरिया में अवैध शराब की रिपोर्ट लिखाने मौजूद रहे एवं संगठन के सदस्यों का कहना है कि यह मामला पुलिस की मिलीभगत के चलते फर्जी बनाया गया है जिस की सत्यता की जांच कराने पुलिस थाना पथरिया के सीसीटीवी कैमरे खंगाले जा सकते हैं।

संगठन के सदस्यों ने यह भी बताया कि संगठन के सदस्यों पर इसी व्यक्ति ने 2018 में भी एससी एसटी के तहत मामला दर्ज करवाया था और अब पथरिया पुलिस की मिलीभगत के चलते दोबारा यह फर्जी मामला दर्ज कराया गया है बरहाल जो भी हो लेकिन यदि पथरिया पुलिस थाने के सीसीटीवी कैमरा की तलाशी ली जाए तो सत्यता सामने आ जाएगी।

वहीं उक्त मामले में पुलिस थाना पथरिया थाना प्रभारी रजनी शुक्ला ने जानकारी देते हुए बताया कि मामला दर्ज किया गया है जांच की जाएगी।  तो वही एएसआई माधव राय ने बताया कि एफ आई आर दर्ज की गई है अब वह लोग उस समय थाने में मौजूद थे या नहीं यह जांच का विषय है जिसकी जांच होने के उपरांत ही कुछ कहा जा सकेगा।

पूरी स्टोरी पढ़िए...

संबंधित ख़बरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button