मौसम विभाग की चेतावनी उत्तर भारत में जारी रहेगा ‘लू’ का कहर, जानें कब खत्‍म होगा बारिश का इंतजार

नई दिल्ली। भारत मौसम विज्ञान विभाग ने गुरुवार को कहा कि पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, उत्तर राजस्थान और उत्तर प्रदेश में अगले 2 दिनों में लू की परिस्थितियां बनी रहने की संभावना है। इस तरह इन स्थानों पर चिलचिलाती गर्मी से अभी कोई राहत नहीं मिलने वाली है।विभाग ने कहा कि देश में दक्षिण पश्चिम मानसून जुलाई में सामान्य रहने की संभावना है।

मौसम विभाग ने कहा कि लू और भीषण लू की परिस्थितियां बुधवार को जम्मू कश्मीर में छिटपुट स्थानों पर दर्ज की गईं। भारत मौसम विज्ञान विभाग ने कहा कि पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्ली, पश्चिम उत्तर प्रदेश, उत्तर पश्चिम राजस्थान और उत्तर पश्चिम मध्य प्रदेश के ज्यादातर स्थानों पर लू की परिस्थितियां दर्ज की गईं। साथ ही, क्षेत्र में छिटपुट स्थानों पर भीषण लू की परिस्थितियां भी दर्ज की गईं।

विभाग ने कहा कि उत्तर पूर्व राजस्थान में भी छिटपुट स्थानों पर भीषण लू चली। इसने कहा, पाकिस्तान से उत्तर पश्चिम भारत की ओर वायुमंडल के निचले हिस्से में संभावित शुष्क पछुआ/ दक्षिण पछुआ पवनों के कारण से पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ और दिल्ली, उत्तर राजस्थान, उत्तर प्रदेश तथा उत्तर पश्चिम मध्य प्रदेश में अगले दो दिनों के दौरान लू की परिस्थितयां बनी रहने की संभावना है। पूरे मैदानी हिस्सों में तापमान पिछले कुछ दिनों में 40 डिग्री सेल्सियस को पार कर गया है।

दक्षिण पश्चिम मानसून देश के पूरे हिस्से में पहुंच गया है, लेकिन हरियाणा, दिल्ली, पंजाब के कुछ हिस्से, पश्चिम राजस्थान और पश्चिम उत्तर प्रदेश अब भी इससे अछूते हैं। विभाग ने बुधवार को कहा था कि इन क्षेत्रों में मानसून के आगे बढ़ने के लिए अनुकूल परिस्थितियां होने की फिलहाल कम संभावना है।

भारत मौसम विज्ञान विभाग ने गुरुवार को कहा कि देश में दक्षिण पश्चिम मानसून जुलाई में सामान्य रहने की संभावना है। जुलाई के पूर्वानुमान में विभाग के महानिदेशक मृत्युंजय महापात्र ने कहा कि प्रथम सप्ताह में अच्छी बारिश होने की उम्मीद नहीं है, लेकिन महीने के दूसरे हफ्ते के दूसरे हिस्से से इसके जोर पकड़ने की संभावना है।

विभाग ने कहा, देश में जुलाई 2021 में मासिक बारिश कुल मिलाकर सामान्य (दीर्घ अवधि औसत का 94 से 106 प्रतिशत) रहने की संभावना है।विभाग मौसम के दूसरे हिस्से के लिए बारिश का पूर्वानुमान जुलाई के अंत में या अगस्त की शुरुआत में जारी करेगा।

पूरी स्टोरी पढ़िए...

संबंधित ख़बरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button