पेगासस स्पाइवेयर जासूसी मामले में केन्द्रीय मंत्री प्रहलाद पटेल का बड़ा बयान आया सामने

prahlad patel spying

दमोह। पेगासस स्पायवेयर (Pegasus Spyware) के जरिए जासूसी मामले में दमोह सांसद और केंद्रीय मंत्री प्रह्लाद सिंह पटेल का नाम सामने आने के बाद तरह तरह को बात निकल कर सामने आई। विदेशी मीडिया संस्थानों द्वारा जारी ‘पेगासस प्रोजेक्ट’ नाम से एक रिपोर्ट के अनुसार भारत के 300 से ज्यादा लोगों की जासूसी का दावा किया गया। इस लिस्ट में कई पत्रकार और नेता भी शामिल हैं। जिनमे मोदी सरकार के मंत्रि प्रह्लाद पटेल (Prahlad Patel) का नाम शामिल था।

इस पूरे मामले को लेकर केंद्रीय मंत्री प्रहलाद सिंह पटेल का बयान सामने आया है। पटेल ने कहा कि उन्हें कभी ऐसा नहीं लगा कि उनका फोन टैप किया जा रहा है।

प्रहलाद पटेल ने कहा की “मैं इतना बड़ा आदमी नहीं हूं. मुझे नहीं लगता है कि सरकार ऐसी गतिविधियों में शामिल रही होगी। मुझे लगता है कि विपक्षी दलों को चर्चा करनी चाहिए और संसद को सुचारू रूप से चलने देना चाहिए.” 

It’s the Govt that takes action on such matters. IT Minister Ashwini Vaishnav & the party (BJP) have clarified their stance. So I don’t need to comment on this issue separately: Union Minister Prahlad Singh Patel, whose name reportedly appeared in ‘Pegasus Project’ media report pic.twitter.com/AlhFaZAeaR

— ANI (@ANI) July 20, 2021

दरासल पूरा विवाद इसराइली सॉफ्टवेयर पेगासस का जिसको लेकर हाल ही में अंतरराष्ट्रीय मीडिया संस्थानों ने एक रिपोर्ट ज़ारी की जिसमें भारत सरकार द्वारा पेगासस स्पाइवेयर (Pegasus Spyware) के ज़रिए 300 से अधिक लोगों की जासूसी कराने के आरोप लगे है। हालंकि रविवार रात, केंद्र ने इस रिपोर्ट को खारिज करते हुए एक खंडन जारी किया जिसमे भारत सरकार ने कथित तौर पर 300 से अधिक नागरिकों की जासूसी के आरोपों का खंडन किया गया। विदेशी मिडिया द्वारा जारी इस रिपोर्ट में भारत सरकार के कैबिनेट के दो मंत्रियों के नाम भी शामिल हैं. इनमें केंद्रीय मंत्री अश्विनी वैष्णव और प्रह्लाद सिंह पटेल शामिल हैं। 

पूरी स्टोरी पढ़िए...

संबंधित ख़बरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button