केंद्रीय मंत्रिमंडल विस्तार की रुप रेखा तैयार, इन चहरों को मिल सकता है मौका

modi cabinet expansion 2021

Modi Cabinet Expansion 2021: केंद्रीय मंत्रिमंडल में विस्तार की तैयारियां पूरी हो चुकी है जल्द ही केंद्र में शामिल नए चहरों का नाम बता दिया जायेगा। मंत्रीमंडल में  फेरबदल की वजह 2024 में होने वाले लोकसभा चुनाव और अगले पांच साल में कुछ राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनावों को भी माना जा रहा है। मोदी सरकार (Modi Government) के दूसरे कार्यकाल में यह पहला मंत्रिमंडल विस्तार (Cabinet Expansion) होगा। हालांकि अभी तक कोई तय तारीख सामने नहीं आई है. लेकिन जल्द ही यह सांझा कर दिया जायेगा की मोदी सरकार 2.O में केंद्र में किसको क्या बड़ी जिम्मेदारी मिलेगी।

समाचार पत्र अमरउजाला के सूत्रों के अनुसार असम के पूर्व मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल को शनिवार को दिल्ली तलब कर लिया गया, जबकि ज्योतिरादित्य सिंधिया को भी राजधानी में ही रहने के लिए कहा है। माना जा रहा है की मंत्रिमंडल विस्तार में व्यापक फेरबदल होगा। वर्तमान में मोदी सरकार के केंद्रीय मंत्रिमंडल में कुल 53 मंत्री हैं। संविधान के अनुसार अधिकतम 81 मंत्री बनाए जा सकते हैं। इस हिसाब से मंत्रिमंडल में 28 और लोगों को समायोजित किया जा सकता है। विस्तार में एनडीए के सहयोगी दलों में से अपना दल और अन्नाद्रमुक को भी जगह मिलेगी। लेकिन जदयू को लेकर स्थिति स्पष्ट नहीं है।

सूत्रों का कहना है कि जब भी मोदी कैबिनेट (Modi Cabinet) में बदलाव होगा तो यह उम्मीद है कि यह न केवल पीएम मोदी (PM Modi) के बाकी बचे तीन सालों के कार्यकाल के लिए प्रशासनिक शासन को आकार देने की कवायद होगी, बल्कि 2024 में होने वाले लोकसभा चुनाव और अगले पांच साल में कुछ राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनावों को ध्यान में रखते हुए क्षेत्रीय प्रतिनिधित्व को सही करके एक राजनीतिक संकेत भेजने की भी उम्मीद होगी। 

मंत्री मंडल की लिस्ट में किन चहरों के नाम:

आगामी उत्तर प्रदेश चुनावों को देखते हुए मोदी सरकार यूपी से रीता बहुगुणा जोशी, वरुण गांधी और रमापति राम त्रिपाठी में से, किन्हीं दो को मंत्रिमंडल में जगह दे सकती है। दलित वर्ग को साधने के लिए रमाशंकर कठेरिया और मुस्लिम मतदाताओं को लुभाने के लिए जफर इस्लाम को मंत्री बनाए जाने की संभावनाएं भी जताई जा रही है। सूत्रों के मुताबिक, मंत्रिमंडल विस्तार में एक दर्जन मंत्रियों की छुट्टी होगी और करीब इतनी ही संख्या में मंत्रियों के विभागों में फेरबदल किया जाएगा। चूंकि वर्तमान में 28 मंत्रियों को नई टीम में शामिल करने का विकल्प बचा है। ऐसे में दो दर्जन नए चेहरों को भी विस्तार में टीम मोदी में जगह मिलेगी।

पूरी स्टोरी पढ़िए...

संबंधित ख़बरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button