राहुल सिंह का विरोध करने वाले बीजेपी कार्यकर्ताओ पर होगी कार्रवाई जिलाध्यक्ष ने कारण बताओ नोटिस जारी किया!

damoh bjp news

दमोह। कांग्रेस छोड़ बीजेपी में आए पूर्व विधायक राहुल सिंह को बीजेपी में आने से भाजपा के कुछ कार्यकर्ताओ ओर नेताओ को पच नहीं रहा है, पूर्व वित्त मंत्री जयंत मलैया (Jayant Malaiya) समर्थक राहुल सिंह का विरोध करने का कोई भी मौका नहीं छोड़ते है। आए दिन सोशल मीडिया ओर पंपलेट के माध्यम से राहुल सिंह (Rahul Singh Lodhi) का विरोध करने में लगे हैं। वहीं राहुल सिंह समर्थक जयंत मलैया ओर उनके बेटे सिद्धार्थ मलैया के खिलाफ लिखने मे लगें हुए है।

  

लगातार बढ़ रही इस तरह की गतिविधियो पर रोक लगाने हेतु भाजपा जिलाध्यक्ष प्रीतम सिंह लोधी (Pritam Singh Lodhi) ने भाजपा के चार कार्यकर्ताओं को कारण बताओ नोटिस जारी किया है। उनमें से तीन बीजेपी कार्यकर्ताओं को तीन दिन के अंदर जबाब देना होगा, वहीं एक को अंतिम चेतावनी भरा नोटिस दिया है। भाजपा जिलाध्यक्ष के इन नोटिसों के बाद यह साफ़ है, कि राहुल सिंह के खिलाफ पोस्ट वायरल करने वालों पर कार्रवाई की गई है, 

जिन चार पार्टी कार्यकर्ताओं को कारण बताओ नोटिस जारी किए है उनमें दीन दयाल नगर मंडल उपाध्यक्ष दिनेश राठौर, भाजपा यूवा मोर्चा के गीतेश अठया, अनुसूचित जाति मोर्चा के नगर अध्यक्ष संजय रोहितास का नाम भी शामिल है। इसके अलावा दमयंती नगर मंडल महामंत्री नीलेश सिंघई को भी चेतावनी दी गई है। जारी किए गए नोटिस में कहा गया है कि इन सभी के द्वारा इंटरनेट मीडिया पर पार्टी विरोधी पोस्ट लिखी जा रहीं है। 

वहीं नोटिस भेजें जाने पर नगर मंडल उपाध्यक्ष दिनेश राठौर का कहना है, की उन्हें नोटिस मिला है, लेकिन उन्होंने पार्टी के खिलाफ कोई कार्य नहीं किया। उन्होंने बताया कि कुछ दिन पहले उनके द्वारा इंटरनेट मीडिया पर एक पोस्ट वायरल की गई थी, जिसमें उन्होंने लिखा था कि मैं दिनेश राठौर, भाजपा दीनदयाल नगर मंडल उपाध्यक्ष राहुल सिंह का विरोध करता हूं, बिकाउ नहीं टिकाउ चाहिए, सिद्धार्थ भैया जिंदाबाद, इस्तीफा पैक रखा है। 

दिनेश राठौर का कहना है कि यदि जिलाध्यक्ष ने इस पोस्ट को पार्टी विरोधी माना है तो वह गलत है क्योंकि दो दिन पहले ही यानि मंगलवार को ही दमोह प्रवास पर आए भाजपा के प्रदेश सह संगठन महामंत्री हितानंद शर्मा ने अपने संबोधन में कहा था कि भाजपा में कमल के फूल का ही प्रत्याशी माना जाता है, व्यक्ति को नहीं। 

इसे भी पढ़े: राहुल सिंह भाजपा से प्रत्याशी घोषित सीएम शिवराज ओर वीडी शर्मा ने लगाई मुहर

इसलिए उनपर आरोप लगाना गलत है, क्योंकि उन्होंने पार्टी को नहीं व्यक्ति को लेकर अपनी बात लिखी है। उनका कहना है कि वैसे तो भाजपा के कुछ कार्यकर्ता पूर्व मंत्री जयंत मलैया और सिद्धार्थ मलैया के खिलाफ भी इंटरनेट मीडिया पर पोस्ट वायरल करते हैं, लेकिन अभी तक उन लोगों को किसी ने नोटिस नहीं दिया। इसतरह की एकतरफा कार्रवाई नहीं होना चाहिए। 

पूरी स्टोरी पढ़िए...

संबंधित ख़बरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button