पाकिस्तान से रिहा होकर अपने घर पहुंचा दमोह का युवक बारेलाल

damoh youth pakistan

दमोह। साल 2019 में अनजाने में पाकिस्तान (Pakistan) सीमा में दाखिल हुआ मानसिक रूप से अस्थिर 40 वर्षीय व्यक्ति मध्य प्रदेश के दमोह (Damoh) जिले में स्थित अपने गांव लौट आया है। स्थानीय पुलिस ने इसकी जानकारी देते हुऐ बताया कि नोहटा थाना क्षेत्र के पाटी शीशपुर गांव के निवासी बारेलाल आदिवासी को पाकिस्तान के बहावलपुर में 14 नवंबर 2019 को अवैध प्रवेश के आरोप में गिरफ्तार किया गया था।

दमोह के पुलिस अधीक्षक डी.आर तेनिवार ने मीडिया को बताया कि शनिवार को बारेलाल जिला मुख्यालय से करीब 20 किलोमीटर दूर स्थित अपने पैतृक गांव पर लौट आया है। अधिकारियों ने बताया कि यह पता नहीं चला कि शख्स पड़ोसी देश में आख़िर कैसे पहुंच गया था। एसपी तेनिवार ने आगे बताया की पाकिस्तान सरकार और विदेश मंत्रालय के बीच बातचीत के बाद आदिवासी को रिहा कर दिया गया और वह पंजाब में अटारी सीमा के रास्ते भारत लौट आया। परिवार के एक सदस्य ने उन्हें अमृतसर में रिसीव किया और वापस ले आए।


damoh youth back from pakistan

आपको बता दें कि हाल ही में अप्रैल 2017 में गलती से पाकिस्तान पहुंचे तेलंगाना के माधापुर इलाके से लापता हुए शख्स की घर वापसी हुई थी। उसको 31 मई को पाकिस्तान द्वारा भारतीय अधिकारियों को सौंप दिया गया था। पुलिस के अनुसार, हैदराबाद स्थित आइटी पेशेवर प्रशांत गया 11 अप्रैल, 2017 को लापता हुआ था और उसके परिवार ने 29 अप्रैल, 2017 को माधापुर पुलिस स्टेशन में गुमशुदगी की शिकायत दर्ज कराई थी। पुलिस ने लापता व्यक्ति का पता लगाने के लिए सभी प्रयास किए, लेकिन कुछ पता नहीं चला। बाद में परिवार वालों को संदेश मिला कि उसे सीमा पार करने के जुर्म में पाकिस्तान में हिरासत में लिया गया है। पुलिस के अनुसार तेलंगाना सरकार, विदेश मंत्री, गृह मंत्रालय और भारत सरकार के निरंतर प्रयास के बाद लापता व्यक्ति को रिहा कर दिया गया। इसे 31 मई, 2021 को भारतीय अधिकारियों को सौंप दिया गया।

पूरी स्टोरी पढ़िए...

संबंधित ख़बरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button