दमोह में सूदखोर से परेशान होकर युवा किसान ने दी अपनी जान!

farmer sucide in gaisabad from damoh district due to sruggle of huge usury.jpg
फ़ोटो साभार: देशगांव

दमोह। Farmer Sucide: दमोह जिले के हटा गैसाबाद थाना अंतर्गत भैसा गांव में रहने वाले एक 28 वर्षीय युवा किसान ने सूदखोरों के आतंक और प्रताड़ना से तंग आकर आत्महत्या कर ली। युवा किसान ने स्वयं लिखित सुसाइड नोट (sucide note) में सूदखोरों का जिक्र किया है, जिसके के बाद परिजनों ने आरोपियों के खिलाफ गैसाबाद थाने में शिकायत दर्ज कराई थी।


इसे भी पढ़ें: मारपीट से हुई थी युवा किसान की मौत पुलिस ने दर्ज किया हत्या का केस


सुसाइड नोट में लिखें सूदखोरो के नाम:

प्राप्त जानकारी के अनुसार गैसाबाद थाना क्षेत्र के भैसा गांव में रहने बाले किसान (Farmer) नीलेश दीक्षित पिता महेश दीक्षित ने सूदखोरों की प्रताड़ना और मारपीट से तंग आकर आत्महत्या (sucide) की है, इस नौजवान किसान ने सुसाइड करने से पहले सूदखोरों द्वारा प्रताड़ना की कहानी अपने हाथों लिखी है। युवा किसान की मौत के बाद जब सुसाइड नोट मिला तो उसमें सभी सूदखोरों के बारे में साफ साफ लिखा हुआ है।


सुसाइड नोट में लिखा है कि “में अपनी मर्जी से नहीं मर रहा हूँ मैने गोविंद मासाब के पूरे पैसे दे दिए हैं और विनोद विलबार के पैसे दे दिए हैं। मेरी मौत का कारण विनोद बिलवार मलखन पटेल और गोविंद मासाब है और मुझे मलखन बड्डे से पैसे लेने हैं” वहीं इस सुसाइड नोट के साथ मोबाइल नंबर की पर्ची भी मिली है। जो कि हटा के रहने वाले किसी अमन खान की बताई जा रहीं है।


इस सुसाईड नोट साफ़ पता चला कि कैसे सूदखोर उसे आए दिन धमकी व गाली गलौज कर, मारपीट और मानसिक उत्पीड़न करते थे। वहीं इस दुखद घटना पर मृतक के चाचा गणेश दीक्षित ने बताया कि शनिवार रात के 11 बजे सोनू सिंह राजपूत गांव के ही युवक नीलेश के साथ घर पहुंचा और उसने बताया कि हटा के अंधियारा बगीचा स्थित अख्तर रेडियम कटिंग की दुकान पर अमन खान ने नीलेश के साथ बुरी तरह मारपीट कर जख्मी कर दिया है और उसकी नई बाइक छीन कर अपने पास रख ली है।


गणेश आगे बताते हैं कि इसके बाद सभी ने  जैसे तैसे नीलेश को उनके चंगुल से छुड़ाया और गांव ले आए। इसके उपरांत नीलेश घर से खेत की ओर चला गया इसके बाद ग्रामीणों द्वारा सुबह 5 बजे जानकारी मिली कि मिथलेश पटेल के खेत पर नीलेश की लाश मिली है। उसके उपरांत परिजनों ने घटना की सूचना गैसाबाद थाना पुलिस को दी गई। मौके पर पहुंचे गैसाबाद थाना प्रभारी अरविंद सिंह ने मामले की जानकारी ली है, वहीं मौके पर हटा एसडीओपी भावना दांगी और एफएसल FSL टीम पुलिस डॉग स्काट के साथ घटनास्थल पहुंची। जिस पर पुलिस ने मर्ग दर्ज कायम कर पंचनामा कर आगे की कार्यवाही शुरू कर दी है।

पूरी स्टोरी पढ़िए...

संबंधित ख़बरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button