दमोह में लॉकडाउन में फंसे मजदूरों को उनके अपने जिलों में भेजने की प्रक्रिया शुरू हो गई, ऐसे मजदूरों की सूची आपके पास है तो, मुहैया करा दें : कलेक्टर तरूण राठी

Damoh e-pass website
source : https://mapit.gov.in/covid-19/

दमोह (ऋषभ विश्वकर्मा) । प्रदेश के जिलों में लॉक डाउन में फंसे मजदूरों को उनके गृह जिलों में भेजने की प्रक्रिया शुरू हो गई है, कल जिले से पन्ना और शहडोल के लिए मजदूरों को बसों से रवाना किया गया है। आप लोगों के पास ऐसे मजदूरों की सूची हो तो, मुहैया करा दें, उन्हें भेज दिया जायेगा। इस आशय की बात आज कलेक्टर तरूण राठी ने जनप्रतिनिधियों की आयोजित महत्वपूर्ण बैठक में बताई। उन्होंने बताया अन्य लोगों के लिए ई-पास की व्यवस्था की गई है, ऑन लाइन आवेदन करना होगा।

कलेक्टर श्री राठी ने कहा प्रदेश के बाहर लॉक डाउन की वजह से फंसे-रूके मजदूरों के लिए सरकार व्यवस्था बना रही है, प्रक्रिया शुरू हो गई है। अगले चरण में इन मजदूरों को लाया जायेगा। उन्होंने बताया 133 लोग उत्तर-प्रदेश के हैं, सूची तैयार है। श्री राठी ने कहा फ्री मूवमेंट को बढ़ावा नहीं दिया जायेगा। बाहर से जो लोग आ रहे है, वे क्वारंटाइन किये गये थे, उन्हें होम क्वारंटाइन किया जायेगा। यह भी कहा रेड जोन से आने वाले लोगों-मजदूरों को संस्थागत क्वारंटाइन किया जायेगा।

यह भी पढ़ें : दमोह जिले में व्यवसायिक प्रतिष्ठान आगामी आदेश तक पूर्णत बंद रहेंगे सिर्फ इन चीजों को मिलेंगी अनुमति

कलेक्टर तरूण राठी ने बताया कोविड-19 के अब तक 47 सेम्पल लिए गये उनमें से 42 सेम्पल निगेटिव व 5 की रिपोर्ट आना है। उन्होंने संस्थागत और होम क्वारंटाइन की विस्तार से जानकारी दी। श्री राठी ने पीपी किट उपलब्धता की जानकारी दी, कहा कमी नहीं है, सरकार के पास पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध है। यह भी बताया इन्फ्रा थर्मामीटर 40 और जिले को मिल गये है।

आवेदन ऑन लाइन है : 

अपना आवेदन ऑन लाइन http://mapit.gov.in/covid-19 पर कर सकेगें। इसके उपरांत ई पास जारी किया जायेगा।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें।और हमें Google समाचार पर फॉलो करें।

पूरी स्टोरी पढ़िए...

संबंधित ख़बरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button