जिले में बनाई जाएंगी 90 गौशाला गौशाला समन्वय समिति की बैठक लिया गया निर्णय

दमोह | सीईओ जिला पंचायत डॉ. गिरीश मिश्रा की अध्यक्षता में जिला स्तरीय गौशाला समन्वय समिति की बैठक कलेक्ट्रेट सभा कक्ष में आयेजित की गयी। बैठक में वर्ष 2020-21 में स्वीकृत गौशालाओं के निर्माण एवं संचालन की समीक्षा की गयी। सीईओ जिला पंचायत डॉ. गिरीश मिश्रा ने 21 गौशालाओं में शेष 06 गौशालाओं को एक सप्ताह में पूर्ण करने के निर्देश दिये। जिले की 05 गौशालओं का संचालन हो गया शेष का संचालन जल्दी शुरु करके आवारा गौवंश को गौशालाओं में रखने के निर्देश दिये गये।

गौशालाओं का संचालन महिला स्व-सहायता समूहों द्वारा किया जा रहा है। जिनको विधिवत् प्रशिक्षण 06 ओर 07 जुलाई को सामुदायिक प्रशिक्षण केन्द्र में दिया जायेगा। 13 गौशालाओं को विद्युत कार्य हेतु दी गयी राशि से शीघ्र विद्युत कनेक्शन 07 दिवस में करने के निर्देश दिये। प्रत्येक गौशाला में पानी की व्यवस्था के लिये बोर के लिये एक-एक लाख रुपये प्रदाय किये गये अधिकांश गौशालाओं में पानी की व्यवस्था हो गयी है। जिनमें असफल बोर रहा है, उसकी वैकल्पिक  व्यवस्था के प्रस्ताव मांगे गये, तथा सीईओ जिला पंचायत डॉ. गिरीश मिश्रा ने प्रत्येक गौशाला में एक-एक टाँका बनाने के निर्देश दिये जिससे पशुओं को पीने का पानी हमेशा उपलब्ध हो सके।



 उन्होंने कहा अब प्रत्येक गौशाला को हर माह अंत में राशि प्राप्त होगी अतः प्रत्येक गौशाला 100 गौवंश रखने तथा विधिवत 11 प्रकार के रजिस्टर संधारण कर गौवंश में कान में टेग अवश्य लगवायेंगे,प्रत्येक गौशाला में 5 एकड़ जमीन पर चारागाह विकास का कार्य तुरन्त शुरु करने के निर्देश दिये जिसमें उन्नत किस्म के चारे फलदार वृक्ष लगाये जायेगें।

गौशालाओं के गौवंश को हरा पौष्टिक चारा उपलब्ध कराने के लिये वन मंडल अधिकारी ने वन विभाग की संचालित नर्सरी से सम्पर्क कर वन समितियों के माध्यम से चारा प्राप्त कर सकते है।  उपसंचालक पशुपालन को अच्छी किस्म के चारे बीज, वन विभाग को उपलब्ध कराने के निर्देश दिये।       
    
damoh today news
फ़ाइल फ़ोटो

वर्ष 2020-21 हेतु शासन द्वारा प्राप्त 90 नवीन गौशालाओं के निर्माण के संबंध में चर्चा की इसमें निर्देश दिये जहाँ छाया/पानी व पर्याप्त जमीन हो वे ग्राम पंचायतें अपना प्रस्ताव दे सकती है, सभी ग्राम पंचायतों/नगर पालिकाओं को अपने क्षेत्र के आवारा वेसहारा गौवंश को नजदीकी गौशाला में भिजवाने के निर्देश दिये।

इस बैठक के पूर्व डॉ. डी.के विश्वकर्मा उपसंचालक पशुपालन ने विस्तार से गौशालाओं की जानकारी दी इस अवसर पर जिला वनमंडलाधिकारी विपिन कुमार पटेल आदि अधिकारी कर्मचारियों की मौजूदगी रहीं।
पूरी स्टोरी पढ़िए...

संबंधित ख़बरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button