जिला आपदा प्रबंधन समिति की बैठक में केंद्रीय मंत्री ने कहा विपदा में भी कम संसाधन के बावजूद अच्छा काम कर रहा हैं दमोह

prahlad patel damoh news

दमोह। केन्द्रीय राज्यमंत्री प्रहलाद पटैल ने प्रशासन एवं चिकित्सा क्षेत्र के लोगो के कार्य की सराहना करते हुये शुभकामनाएं दी। उन्होंने कहा कि इस महामारी के दबाव के बीच में हमारे डॉक्टर्स एवं नर्सेस तथा मेडिकल स्टॉफ अस्वस्थ्य होने के बावजूद भी अपने कार्य को पूरी मुस्तेदी के साथ कर रहे हैं, ऑक्सीजन के सप्लाई की चर्चा सब जगह होती है लेकिन दमोह उसमें काबू में हैं, इसके लिए प्रशासन बधाई का पात्र हैं। 


यह बात आज केन्द्रीय राज्यमंत्री पटैल ने जिला आपदा प्रबंधन समिति की बैठक में कही। उन्होंने कहा सभी लोग मिलकर किसी भी विषम से विषम परिस्थिति के लिए मिलजुल कर उससे पार पाने के लिए समर्थ हैं। बैठक में जिले में 15 मई तक लॉक डाउन बढ़ाने का निर्णय लिया गया।


उन्होंने कहा कि इस विपदा में भी दमोह कम संसाधन के बावजूद अच्छा काम कर रहा उन्होंने कहा कि आक्सीजन प्लांट मई के अंत तक या उसके एक सप्ताह बाद लग जायेगा, तो जो समस्या हैं, वह समाप्त होगी और दमोह जिला बेहतर स्थिति में होगा।


उन्होने कहा कि रेमडेसिविर इंजेक्शन और ऑक्सीजन के संबंध में डॉक्टर इन्हें अपने विवेक के अनुसार लगायेंगे, इसमें कोई सिफारिश न करे।  रेमडेसिविर इंजेक्शन और ऑक्सीजन गैस की उपलब्धता की समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने ऑक्सीजन कान्सेन्ट्रेटर उपकरणों की उपलब्धता की जानकारी भी ली।


पटैल ने जिले में संचालित कोविड केयर सेंटर की जानकारी लेकर कहा सभी केन्द्रों में समुचित व्यवस्था सुदृण कर ली जाये। उन्होंने अस्पतालों में मरीजों का भोजन बर्तन में न लाने का आग्रह किया। पटैल ने पीपीपी मॉडल पर काम करने की बात रखी। यह भी कहा हम सब वालिंटियर दे, ताकि मेडिकल स्टाफ अपना काम कर सके, भोजन की व्यवस्था जन-प्रतिनिधि-स्वयं सेवी संगठन-संस्थाएं हाथ में लें। हमें मेडिकल और पैरामेडिकल स्टाफ को सुरक्षित करना होगा। 


उन्होंने नगरपालिका से शहर की नाली-नालों की सफाई वर्षा के पूर्व सुनिश्चित करने के निर्देश देते हुए कहा जिला अस्पताल का ड्रेनेज सिस्टम बाधित न हो, जहां दिक्कत हो बतायें पर सिस्टम बेहतर हो जाये। केन्द्रीय मंत्री ने दो टूक कहा कोरोना की तीसरी लहर के लिए सर्तकता से हमें तैयार रहना है।


इसके पूर्व बैठक के प्रारंभ में जिला कलेक्टर तरूण राठी ने ऑक्सीजन गैस की उपलब्धता और जिला अस्पताल में गैस प्लांट के संबंध में विस्तार से बात रखी। उन्होंने जन सहयोग से मिलें ऑक्सीजन सिलेण्डर और ऑक्सीजन कान्सेन्ट्रेट की जानकारी देते हुए बताया आज राज्य शासन से 25 ऑक्सीजन कान्सेन्ट्रेटर और मिल गये है, साथ ही जिला अस्पताल और सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों में गैस पाईप लाईन की जानकारी दी। राठी ने कहा मई के अंत तक प्लांट तैयार हो जायेगा। उन्होंने आक्सीजन गैस की उपलब्धता जिला अस्पताल, सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों और निजी अस्पताल को किये जाने की पूर्ण जानकारी दी। कोविड केयर सेंटर की भी जानकारी देते हुए बताया कि बटियागढ़, जबेरा और पथरिया सेंटर्स का उनके द्वारा निरीक्षण किया गया है, व्यवस्थाओं से अवगत कराया।


DM ने गांवो में कोरोना केसेस की विस्तार से जानकारी देते हुए व्यवस्थाओं और सर्वे आदि के संबंध में भी बताया। उन्होंने कोविड कंट्रोल रूम की जानकारी दी बताया 719 होम आईसोलेट मरीजों से दिन में एक बार बात की जा रही है। साथ ही कोविड टेस्ट में फर्जी एड्रेस दिये जाने की जानकारी देते हुए कहा अब आधार कार्ड या वोटर आई.डी. ली जा रही है।


राज्यमंत्री ने सभी की बातें सुनकर संबंधित अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिये। बैठक में कोविड प्रभारी सतीश तिवारी ने जिला अस्पताल में सफाई, पेयजल और रेमसेडिविर इंजेक्शन पर बात रखी कहा समुचित व्यवस्थाएं हो जायें।


इस अवसर पर वेयर हाउसिंग कार्पोरेशन अध्यक्ष (केबिनेट मंत्री दर्जा) राहुल सिंह, जिला पंचायत अध्यक्ष शिवचरण पटैल, विधायक पीएल तंतुवाय, विधायक धर्मेन्द्र सिंह लोधी, विधायक अजय टण्डन, पूर्व नगरपालिका अध्यक्ष मालती असाटी, भाजपा जिला अध्यक्ष धर्मेन्द्र सिंह लोधी, कांग्रेस जिला अध्यक्ष मनु मिश्रा, कलेक्टर तरूण राठी, एसपी हेमंत चौहान, सीईओ जिला पंचायत अजय श्रीवास्तव,वरिष्ठ चिकित्सक डॉ. डीएम संगतानी, सतीश तिवारी सहित जिला आपदा प्रबंधन समिति के सम्मानीय सदस्यगण, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी, सिविल सर्जन, सहित जिला अधिकारी मौजूद रहे।

पूरी स्टोरी पढ़िए...

संबंधित ख़बरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button