जयंत मलैया के खिलाफ़ हुई कारवाई पर दमोह में दो फाड़ हुई भाजपा जिला उपाध्यक्ष ने दिया इस्तीफा

raman khatri damoh bjp.
जिला बीजेपी महामंत्री रमन खत्री

दमोह। दमोह विधानसभा उपचुनाव हारने के बाद बीजेपी के अंदर ही घमासान मचा हुआ हैं। वहीं पूर्व वित्त मंत्री और वरिष्ठ भाजपा नेता जयंत मलैया पर लिऐ गए एक्शन के बाद जिले में बीजेपी के पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं के इस्तीफे का दौर अब शुरू हो गया है। 


दरअसल जयंत मलैया को कारण बताओ नोटिस दिए जानें और उनके बेटे सिद्दार्थ मलैया सहित 5 मंडल अध्यक्षों को पार्टी से निलंबित कर दिया गया था। जिससे पार्टी कार्यकर्ताओं ने विरोध जताते हुऐ इस कारवाई को गलत ठहराया है। जिसके बाद सोशल मीडिया पर मलैया के समर्थन में कई भाजपा कार्यकर्ता सामने- सामने आ गए हैं। 


भाजपा युवा मोर्चा के जिला उपाध्यक्ष दिया इत्तीफा:


मलैया पर हुई कारवाई पर बीजेपी युवा मोर्चा के जिला उपाध्यक्ष विवेक अग्रवाल ने अपना इस्तीफा दे दिया, उन्होंने लिखा कि संगठन के पक्षपात निर्णय से में निराश हूं।


ज़िला महामंत्री ने राहुल लोधी पर फोड़ा हार का ठीकरा:


वहीं शनिवार को बीजेपी के जिला महामंत्री ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर पार्टी नेतृत्व के फैसले से अपनी नाराजगी जताई है उन्होंने राहुल लोधी को ही हार के लिए जिम्मेदार ठहरा दिया। खत्री ने कहा कि कांग्रेस छोड़कर बीजेपी में आए राहुल लोधी को प्रत्याशी बनाए जाने को लेकर पार्टी ने पहले जितने भी सर्वे कराए थे। उन सभी सर्वे में दमोह कि जनता ने राहुल लोधी (Rahul Lodhi) को सिरे से नकार दिया था।


इसके बावजूद पार्टी के शीर्ष नेतृत्व ने राहुल लोधी को उम्मीदवार बना दिया। रमन खत्री ने पार्टी नेतृत्व को जमकर कोशते हुए कहा कि जब चुनाव के वक्त पूरा पार्टी नेतृत्व दमोह में कैंप कर रहा था, उस वक्त शीर्ष नेतृत्व की नजरें कार्यकर्ताओं पर क्यों नहीं पड़ी उन्होंने आगे कहा कि भीतरघात से हजार-पांच सौ वोट से चुनाव प्रभावित हो सकता है लेकिन 17 हजार वोटों से नहीं हाराया जा सकता।


ये भी पढ़े: उपचुनाव में हार के बाद मलैया पर कि गई कारवाई पर पूर्व मंत्री अजय विश्नोई ने उठाए सवाल


गौरतलब है कि पार्टी ने जयंत मलैया (Jayant Malaiya) को 10 दिनों में कारण बताओ नोटिस का जवाब देने के लिए कहा है. पार्टी अगर जयंत मलैया के जवाब से संतुष्ट नहीं होती है तो उनके खिलाफ भी अनुशासनात्मक तौर पर कार्रवाई की जा सकती है। बीजेपी मध्य प्रदेश (BJP Madhya Pradesh) ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से ट्वीट कर इस बात की भी जानकारी दी है।

पूरी स्टोरी पढ़िए...

संबंधित ख़बरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button