कांग्रेस के बाद बीजेपी ने की ब्राह्मणों को लुभाने की कोशिश!

damoh by election vote bank politics

दमोह। Damoh By Election 2021: उपचुनाव की घोषणा के बाद से ही राजनेतिक दल विकास को भूलकर जातिगत समीकरण बैठाने में लगे हुए हैं, इसी को देखते हुए जहां कांग्रेस ने अजय टंडन को अपना प्रत्याशी बनाया वहीं ब्राह्मण कार्ड खेलते हुए संगठन की कमान अब मनु मिश्रा के हाथों में सौंप दी है। कमलनाथ द्वारा कराए गए सर्वे में ब्राह्मण चेहरा सबसे ज्यादा अंकों के साथ पहली पसंद था, इसी को देखते हुए कांग्रेस ने अजय टंडन पर भरोसा जताते हुए टिकट दी है।


आपको बता दें कि कांग्रेस में भीतरघात की आशंका के चलते और लंबे समय से टिकट न मिलने से नाराज ब्राह्मण वर्ग को संतोष करने के लिए संगठन की बागडोर ब्राह्मण नेता के हाथ में सौंप दी गई है, इसका कितना असर होगा यह 2 मई को ही पता चलेगा।

भाजपा ने भी खेला ब्राह्मण कार्ड:


कांग्रेस की तर्ज पर भाजपा ने भी ब्राह्मण कार्ड खेला है, पिछले माह 27 फरवरी को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा ने सभी समाज के प्रमुख लोगों से बात की थी। जिसमें ब्राह्मण समाज के लोगों ने बीजेपी से नाराजगी जताते पार्टी में उन्हें उपेक्षित रखने के आरोप लगाए थे। इसी को देखते हुए श्रवण पाठक की ताजपोशी करने में देर नहीं की श्रवण को भाजपा ने दमयंती नगर मंडल का अध्यक्ष घोषित बनाया है। भाजपा में भी एक तरह से इस ताजपोशी के बहाने ब्राह्मणों को साधने की कोशिश की गई है।


ये भी पढ़े: आख़िर क्यों महत्व रखता है बीजेपी और कांग्रेस के लिए दमोह का ये उपचुनाव?


इससे पहले भाजपा ने बुंदेलखंड के दिग्गज ब्रह्मण नेता और मंत्री गोपाल भार्गव को दमोह उपचुनाव का प्रभारी बनाया है,दरअसल पूर्व वित्त मंत्री जयंत मलैया की चल रही नाराजगी के कारण भाजपा यह समझ चुकी है, कि ब्राह्मण वोटर्स को भी साधना जरूरी है।

पूरी स्टोरी पढ़िए...

संबंधित ख़बरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button