उपचुनाव में हार के बाद मलैया पर कि गई कारवाई पर पूर्व मंत्री अजय विश्नोई ने उठाए सवाल

ajay bishnoi jayant malaiya

दमोह। उपचुनाव में अपनी हार से भाजपा लगातार एक्शन के मूड में है। इसको लेकर कल लिए गए प्रशासनिक व राजनीतिक एक्शन ने चर्चाओं का बाजार गरम कर दिया। प्रदेश भाजपा की और से की गई कार्यवाई के विरोध में भाजपा के ही वरिष्ठ विधायक व पूर्व मंत्री अजय विश्नोई ने अपनी पार्टी के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है।

विश्नोई ने पूछा है कि हार की जिम्मेदारी टिकट बांटने वाले और चुनाव प्रभारी भी लेंगे? उल्लेखनीय है कि कल ही बीजेपी ने दमोह हार को लेकर बीजेपी के वरिष्ठ नेता जयंत मलैया और उनके बेटे सिध्दार्थ मलैया पर बड़ी कार्यवाई स्वरूप सिध्दार्थ व पांच मंडल अध्यक्षों को निलंबित कर दिया गया है और खुद जयंत मलैया को कारण बताओ नोटिस थमाया है। 

चुनाव में हार की जबावदारी क्या टिकिट बांटने वाले और चुनाव प्रभारी भी लेंगे ?

— Ajay Vishnoi (@AjayVishnoiBJP) May 8, 2021

इससे पहले बड़ा प्रशासनिक फेर बदल किया गया जिसमे दमोह के कलेक्टर, एसपी और इससे पूर्व टी.आई. को भी हटा दिया गया था। हालांकि मलैया की पार्टी से नाराज़गी किसी से छिपी नहीं है एक तो 2018 में मिली शिकस्त की खुन्नस ऊपर से स्वयं और पुत्र को टिकट न मिलने पर पार्टी के विरूद्ध अपना वर्चस्व दिखाने के लिया किया गए सभी कर्मकाण्ड का विफल प्रायस। मलैया ने स्वयं को ही भाजपा और स्वयं को ही दमोह का अधिपति मानने की भूल की अब कार्यवाई तो होनी हीं थी स्वाभाविक यह भी था इससे मलैया तबके समेत कुछ वरिष्ठ जनों में नाराज़गी होगी पर प्रदेश में भाजपा को अपनी संगठनात्मक शक्ति का परिचय भी देना था, और भारतीय जनता पार्टी ने साफ शब्दों में ऐसा कर पार्टी के जयचन्दो को जैसा कि नरोत्तम मिश्रा का कहना उनको साफ शब्दों में संदेश दिया भी।

अजय विश्नोई के सवालों से भाजपा के भीतर तिलमिलाहट है तो इसकी वजह यह भी है कि विश्नोई का पटेल और शिवराज से कभी राजनीतिक राब्ता बहुत गहरा नहीं रहा है। लंबे समय से विश्नोई कई मामलों में अपनी ही पार्टी पर सवाल उठाने से नहीं चूकते। विश्नोई के इस ट्वीट से बीजेपी अपनो से ही घिरती नजर आ रही है। इससे पहले भी उन्होंने जबलपुर से किसी विधायक को मंत्री ना बनाए जाने पर एक पोस्ट डाली थी जिसमें उन्होंने कहा था कि समय शायद मुझसे कुछ बड़ा करवाना चाहता हैं। इसलिए हो सकता हो ये सब कुछ हुआ हो। अब इस माह ही में बड़े काम की तैयारी शुरू करूंगा। इसके बाद उन्होंने सीएम शिवराज को पत्र भी लिखा था, जिसमें उन्होंने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह से महाकौशल और विंध्य इलाके में विकास के लिए कार्यभार खुद संभालने की बात कही थी।

समसामयिक और सही कार्यवाही । https://t.co/dOptCfYx81

— Prahlad Singh Patel (@prahladspatel) May 7, 2021

वहीं केंद्रीय मंत्री प्रहलाद पटेल ने दमोह में हुई पार्टी द्वारा कार्यवाई को सही बताते हुए करवाई को समसामयिक और सही कार्यवाही बताया।

पूरी स्टोरी पढ़िए...

संबंधित ख़बरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button