BJP सांसद ‘ज्योतिरादित्य सिंधिया’ ने कांग्रेस पर बोला बड़ा हमला कहा 15 महीने में मध्यप्रदेश को बर्बाद कर दिया

jyotiraditya scindia in damoh

दमोह। दमोह विधानसभा चुनाव में भाजपा और कांग्रेस के दिग्गज नेता जमकर धुआधार प्रचार कर रहे हैं। आज़ भाजपा प्रत्याशी राहुल सिंह लोधी के पक्ष में बीजेपी के वरिष्ठ नेता और राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया दमोह पहुंचे इस दौरान ग्राम लक्ष्मण कुटी में आयोजित जनसभा को संबोधित करते हुए कांग्रेस पर जमकर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि कमलनाथ और दिग्विजय की जोड़ी नंबर वन बताते हुए तंज कसा सिंधिया ने इन दोनों पर प्रदेश को बर्बाद करने का आरोप लगाया।


प्रदेश का सबसे बड़ा सौदेबाज कोई है तो वो कमलनाथ और दिग्विजय हैं:


सिंधिया ने कहा कि मध्यप्रदेश में अगर कोई सबसे बड़ा सौदेबाज है, तो वो कमलनाथ और दिग्विजय सिंह ही हैं, राहुल लोधी के बारे में बोलते हुए उन्होंने ने कहा कि राहुल सिंह लोधी ने न्याय और कुर्सी में से न्याय को चुना है। सिंधिया ने कहा कि 15 महीने की कांग्रेस की सरकार ने वादा खिलाफी की और भ्रष्टाचार किया था इस सरकार में सिर्फ एक मुख्यमंत्री नहीं था, बल्कि जोड़ी नंबर वन थी। इस जोड़ी नंबर वन ने 15 महीनों में मध्यप्रदेश को लूट का प्रदेश बना दिया और अब दमोह में आकर सौदेबाजी की बात करते हैं।


लेकिन, मध्य प्रदेश का सबसे बड़ा सौदेबाज कोई है तो वो कमलनाथ और दिग्विजय सिंह हैं। 2018 में ये जोड़ी नंबर वन आपके सामने आई थी तो कहा था कि हर किसान का 2 लाख तक का कर्जा माफ कर देंगे, ये बात तो मुझसे भी कहलवाई गई थी। कांग्रेस के बड़े नेता आकर कहते थे 1 साल नहीं, एक महीना नहीं, 10 दिन में कर्जा माफ करेंगे नहीं तो मुख्यमंत्री को बदल देंगे. मेरा भी मानना यह था कि जो सीएम अपना वादा नहीं निभा पाया उसे कुर्सी पर बैठने का हक नहीं।


सिंधिया ने अपनी दादी राजमाता भी ज़िक्र किया:


दमोह कि जनता को संबोधित करते हुए ज्योतिरादित्य सिंधिया ने अपनी दादी राजमाता सिंधिया का भी जिक्र किया। सिंधिया ने कहा कि मेरी दादी ने भी जनता से वादाखिलाफी करने वाली डीपी मिश्रा की सरकार को उखाड़ फेंका था, और जनता से वादाखिलाफी हुई तो ज्योतिरादित्य सिंधिया ने भी सरकार को धूल चटा दी। उपचुनाव में जनता ने जोड़ी नंबर वन को उखाड़कर बता दिया कि जनता किसके साथ है।


सिंधिया ने कहा कि कोरोना का लॉकडाउन तो 2020 में शुरू हुआ, लेकिन 15 महीने की कांग्रेस सरकार ने पहले की जनता का लॉकडाउन लगा दिया था। सिंधिया ने कहा कि वल्लभ भवन में आम लोगों की एंट्री बैन करके कारोबारियों की एंट्री हो रही थी। कांग्रेस सरकार ने वल्लभ भवन को भ्रष्टाचार का अड्डा बना दिया था। लेकिन पिछले एक साल में प्रदेश में फिर से खुशहाली आई है, जिन योजनाओं को कमलनाथ ने ठंडे बस्ते में डाल दिया था, उन्हें मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान कि सरकार बनते ही फिर से शुरू किया हैं।

पूरी स्टोरी पढ़िए...

संबंधित ख़बरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button