AICC के सचिव एवं उपचुनाव प्रभारी संजय कपूर ने कहा ये उपचुनाव मप्र के 2023 के चुनाव का विजन करेंगी तय

damoh by election congress in charge
AICC सचिव एवं उपचुनाव प्रभारी संजय कपूर (Photo: Social Media)

दमोह। 17 अप्रैल को होने वाले विधानसभा उपचुनाव को लेकर कांग्रेस पार्टी अब और भी आक्रमक हो चुकी है। इसी को देखते हुए (AICC) अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के सचिव एवं उपचुनाव प्रभारी संजय कपूर ने मप्र के 20 विधायको एवं पूर्व विधायकों के साथ दमोह विधानसभा (Damoh Assembly) के मंडलम सेक्टर, ब्लाॅक अध्यक्षों, जिला पदाधिकारियों की बैठक जबलपुर नाका वायपास स्थित एक होटल में की। बैठक को संबोधित करते हुए उन्होनें कहा कि यह सीट महाभारत की याद दिलाती है एक ओर जहा सत्य की लड़ाई थी दूसरी ओर असत्य की। 


मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) की जनता ने कांग्रेस की सरकार वोटो से चुनी थी किंतु सत्ता के लालच में भारतीय जनता पार्टी ने इस जनांदेश को खंडित कर नोटों से पुनः सरकार बना ली। विधायक रवि जोशी, संजय यादव, लखन घनघोरिया, विनय सक्सेना, तरवर सिंह, नीरज दीक्षित, संजय शर्मा, पूर्व विधायक प्रभु सिंह ठाकुर, प्रताप सिंह, नीलेश अवस्थी, सौरभ शर्मा एवं विक्रांत भूरिया, मांडवी चैहान, स्वदेश जैन ने कहा कि हम सब विधायक प्रत्येक मंडलम सेक्टर पर तैनात है क्योंकि भाजपा चुनाव के आखिरी तीन दिनों में मतदाताओ को डरा धमकाकर तरह तरह के लालच देकर वोट हथयाने का प्रयास करेगी। 


किंतु उनका यह प्रयास हम असफल कर देंगें। कांग्रेस प्रत्याशी अजय टंडन (Congress Candidate Ajay Tandon) नवनियुक्त जिलाध्यक्ष मनु मिश्रा ने कहा कि अब तो दमोह (Damoh) विधानसभा की जनता कहने लगी है कि गणपति बप्पा मोरिया राहुल लोधी भाग गया हिण्डोरिया। बैठक में प्रमुख्य रूप से रूद्रप्रताप सिंह, लक्ष्मण सिंह, मनीषा दुबे, संजय चैरसिया, ललित नायक, तेजीराम रोहित, तिलक सिंह, यशपाल ठाकुर, निधि श्रीवास्तव, मंजीत यादव, वीरेन्द्र ठाकुर, नितिन मिश्रा, राशु चैहान एवं सैकड़ों कांग्रेसजनो की उपस्थिति रहीं। 

ये भी पढ़े: आख़िर क्यों महत्व रखता है बीजेपी और कांग्रेस के लिए दमोह का ये उपचुनाव?

पूरी स्टोरी पढ़िए...

संबंधित ख़बरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button