होशंगाबाद जिले के पिपरिया में विश्व हिंदू परिषद (VHP) के नेता रवि विश्वकर्मा की गोली मारकर हत्या की गई

VHP leader ravi Vishwakarma
विश्व हिंदू परिषद (VHP) के नेता रवि विश्वकर्मा

होशंगाबाद | जिले के पिपरिया (Pipariya) में विश्व हिंदू परिषद (VHP) के नेता की गोली मारकर हत्या कर दी गई। बताया जा रहा है की वह और वीएचपी ओर बजरंग दल से जुड़े रवि विश्वकर्मा (Ravi Vishwakarma) पर अंडर ब्रिज पर जानलेवा हमला किया गया। प्राप्त जानकारी के अनुसार हमलावरों की संख्या 8 बताई जा रही हैं। रवि विश्वकर्मा अपनी कार से पचमढ़ी रोड़ की तरफ जा रहे थे। उसी दौरान अंडर ब्रिज के नीचे बदमाशों ने उन्हें रोका और हमला कर दिया। बदमाशों ने रवि विश्वकर्मा की कार में भी तोड़फोड़ की।

घटना के पीछे पुरानी रंजिश को वजह बताया जा रहा है। जानकारी के मुताबिक रवि विश्वकर्मा मंडी में ठेकेदारी का काम करते थे। सूत्रों ने बताया कि वो हम्मालों के वे नेता थे। अनाज मंडी की वर्चस्व की लड़ाई में ही रवि की हत्या हुई है। घटना की तस्वीरें बता रहीं है कि हमलावर पहले से ही घात लगाकर बैठे थे।

घात लगाकर बैठे थे हमलावर :

जैसे ही रवि विश्वकर्मा की गाड़ी अंडर ब्रिज के नीचे पहुंची, हमलावरों ने धावा बोल दिया। तस्वीरें बयां कर रहीं है कि रवि गाड़ी से बाहर नहीं निकलना चाहता था। लिहाजा हमलावरों ने उसकी गाड़ी में तोड़फोड़ की। लोहे के पाइप से गाड़ी के कांच फोड़ दिए। जिसके बाद रवि को बाहर निकाला और गोली मार दी। चश्मदीदों का ये भी कहना है कि गोली मारने के साथ-साथ रवि पर लोहे के पाइप से भी जानलेवा हमला किया गया।

सूत्रों के मुताबिक रवि को तीन गोलियां मारी गई,वारदात को अंजाम देने के बाद आरोपी मौके से भाग निकले। गोली चलने की आवाज सुनकर आस-पास के लोग मौके पर पहुंचे। बताया जा रहा है कि पिपरिया सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पहुंचने से पहले ही रवि ने दम तोड़ दिया। फिलहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है। एसडीओपी पिपरिया शिवेंद्र जोशी, मंगलवारा थाना प्रभारी प्रवीण कुमरे से प्रतिक्रिया लेने के लिए फोन लगाया गया, लेकिन कॉल रिसीव नहीं किया गया।

MP NEWS  से जुड़ी अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक लाइक और ट्विटर  पर फॉलो करें और हमें  Google समाचार  पर फॉलो करें।
पूरी स्टोरी पढ़िए...

संबंधित ख़बरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button