राष्ट्रपति के आगमन से पूर्व सिंगौरगढ़ का केन्द्रीय राज्यमंत्री प्रहलाद पटैल ने लिया जायजा!

president singorgarh visit


दमोह। महामहिम राष्ट्रपति जी सिंगौरगढ़ पधार रहे हैं, सिंगौरगढ़ किला और उसके आसपास जितने भी रमणीय स्थान हैं सौंदर्यीकरण का काम एएसआई और बाकी संस्था मिलकर कर रहे हैं, महामहिम के आगमन पर हम सब उस तैयारियों में जुटे हुए हैं, जिससे महामहिम के सम्मान में कोई कमी ना रहे, उनकी मूल इच्छा जनजातीय बंधुओं से मिलने की है, रानी दुर्गावती परिवार के वंशज व उनसे जुड़े हुए लोग हमारी कोशिश होगी उनको महामहिम से अवश्य भेंट करवाएं, राष्ट्रपति जी की मूल इच्छा थी की किसी जनजाति के कार्यक्रम में जाए सिंगौरगढ़ से बेहतर जगह और कोई नहीं हो सकती है। 


यह बात केन्द्रीय संस्कृति एवं पर्यटन राज्यमंत्री  प्रहलाद पटैल ने आज दोपहर सिंग्रामपुर में महामहिम राष्ट्रपति जी के कार्यक्रम के मद्देनजर की जा रही व्यवस्थाओं एवं तैयारियों का जायजा लेते हुये व्यक्त किये।

उन्होंने वीरांगना रानी दुर्गावती प्रतिमा स्थल-पार्क का निरीक्षण के दौरान चल रहे कार्यो के संबंध में आवश्यक दिशा निर्देश दिये।  पटैल यहां से हैलीपेड और मुख्य कार्यक्रम स्थल पहुंचकर प्रत्येक बिन्दुओं पर विस्तार से चर्चा की। इस दौरान यहां एएसआई द्वारा लगाई जाने वाली प्रदर्शनी, सांस्कृति कार्यक्रम और अन्य बिन्दुओं पर चर्चा की गई। उन्होंने कार्यक्रम में पुरातत्व संबंधी लघु फिल्म प्रदर्शन के संबंध में भी चर्चा की।

आदिवासियों एवं जनप्रतिनिधियों के साथ बैठक:

केंद्रीय राज्य मंत्री प्रहलाद पटेल ने कहा इस आमंत्रण को विधिवत रखा जाए, जिन लोगों को राष्ट्रपति जी के निकट जाने का मौका मिलेगा उन लोगों को 24 घंटे पहले अपना कोरोना का टेस्ट अवश्य करवाना है, यह राष्ट्रपति जी का प्रोटोकॉल है, सुरक्षा की दृष्टि से हम सबको प्रोटोकॉल को फॉलो करना है। उन्होंने कहा सारी व्यवस्थाएं जिला प्रशासन देख रहा है, मूर्ति के स्थान पर भी कुछ बदलाव किए जाएंगे, मूर्ति की गरिमा को बढ़ाने का प्रयास किया जाएगा, माला मानगढ़ में हथियार बनाने की फैक्ट्री कभी थी, वहां पर अधिकारी जाएंगे, कुछ नया मिल जाए, कहीं किसी भी गांव में खुदाई में उनकी कुछ चीजें मिली हो, यादगार चीज हो, उसको भी जिला प्रशासन को देना चाहिए, जिससे उसको ठीक ढंग से डिस्प्ले किया जा किया जा सकेगा। 

उन्होंने कहा नरसिंहपुर एवं छिंदवाड़ा जिला से आदिवासी भाई आयेंगें, उनको भी स्थान मिलेगा, सभी को मान सम्मान के साथ बैठया जायेगा, समाज के प्रमुख या उनके वंशजों को निमंत्रण दिया जाएगा, इसमें पार्टी बंदी नहीं करना जो भी आए वह किसी भी पार्टी का हो हम उन्हीं लोगों की सूची बनाएं। केंद्रीय मंत्री ने कहा राष्ट्रपति जी के कार्यक्रम में दल गत कोई काम नहीं किया जाएगा यह कार्यक्रम पूर्णतया गैर राजनीतिक होगा।


केंद्रीय राज्यमंत्री ने कहा विगत वर्षों से हम वीरांगना रानी दुर्गावती जी का जन्म दिवस मनाते आ रहे हैं, इतिहास में सब चीज साफ लिखी गई है, कलचुरी काल से लेकर गोंडवाना काल के बीच में सिंगौरगढ़ बहुत बड़ा महत्वपूर्ण स्थान रहा है, उनके अवशेष भी उतने ही महत्वपूर्ण है, लेकिन शायद वह स्थान प्राप्त नहीं हुआ।

पूरी स्टोरी पढ़िए...

संबंधित ख़बरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button