बुंदेलखंड :ओरछा में श्री रामराजा सरकार के दर्शन के लिए अब ऑनलाइन मिलेगा टिकट जानें पूरी प्रक्रिया

ramraja remple of orchha
Ramraja Temple Of Orchha / File Photo

डिजिटल डेस्क, ओरछा । बुंदेलखंड की अयोध्या कहे जाने वाले ओरछा में स्थित श्री रामराजा मंदिर में दर्शन के लिए श्रद्धालु को ऑनलाइन  बुकिंग कर टिकट लेना हागा, उसके बाद ही दर्शन किए जा सकेंगे इसके लिए किसी भी तरह का शुल्क नहीं लगेगा।

मध्यप्रदेश के निवाड़ी जिले में स्थित है ओरछा श्री रामराजा मंदिर का है. कोरोना महामारी के संक्रमण को लेकर उठाए गए एहतियाती कदमों के चलते यहां लोगों के लिए दर्शन को बंद कर दिया गया था, लेकिन यहां नियमित पूजा हो रही है. आठ जून से मंदिर में दर्शन की शुरुआत होने जा रही है, लेकिन किसी तरह की भीड़ न हो, इसके लिए केंद्र सरकार और राज्य सरकार के दिशानिर्देश का उल्लंघन न हो इसके लिए प्रशासन ने कुछ खास इंतजाम किए है।

निवाड़ी जिलाधिकारी अक्षय कुमार सिंह ने शुक्रवार को बताया है कि मंदिर में कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए सोशल डिस्टेंसिंग का पालन तो किया ही जाएगा, यहां आने वाले हर दर्शनार्थी का तापमान लिए जाएगा. वहीं सैनिटाइजेशन की व्यवस्था भी रहेगी और दर्शनार्थी को मास्क का इस्तेमाल आवश्यक रूप से करना अनिवार्य होगा।

सिंह ने आगे बताया, ‘मंदिर में भीड़ न बढ़े इसके लिए ऑनलाइन बुकिंग कर टिकट हासिल करना होगा. दर्शनार्थी को ऑनलाइन आवदेन करना होगा कि उसे किस दिन और किस समय दर्शन करने आना है, उसी आधार पर उसे टिकट जारी किया जाएगा. मंदिर में प्रवेश के समय ही दर्शनार्थी के परिचयपत्र के जरिए उसका मिलान किया जाएगा.’

Ram raja mandir orchha
Ram Raja Mandir Orchha

मंदिर में दर्शन के एवज में दर्शनार्थी से किसी तरह का शुल्क  नहीं लिया जाएगा तो सिंह का कहना था, ‘दर्शनार्थी से किसी तरह के शुल्क का प्रावधान नहीं किया गया है, मगर ऑनलाइन टिकट लेते वाले आवेदन में एक कॉलम दान का भी है. भारतीय परंपराओं के अनुसार, लोग दान में भरोसा करते हैं, इसलिए यह प्रावधान किया गया है. दर्शनार्थी ऑनलाइन टिकट के लिए आवदेन करते वक्त दान भी कर सकते हैं।

आपको बता से यह मन्दिर  500 वर्ष के इतिहास में पहली बार श्रीरामराजा मंदिर में 17 मार्च से दर्शनार्थियों का प्रवेश प्रतिबंध था. कोरोना को लेकर सतर्कता बरतते हुए नगर के ऐतिहासिक स्मारक व मंदिर को राज्य पुरातत्व विभाग के आदेश पर बंद कर दिए थे. 85 दिन बाद मंदिर को खोला जा रहा है. इसके चलते यहां दर्शनार्थियों की बड़ी संख्या में लोगो की आने की संभावना के मद्देनजर यह व्यवस्था की जा रही है. आपको आगे बता दे कि यह देश का इकलौता ऐसा मंदिर है, जहां भगवान राम को राजा के तौर पर पूूजा जाता है, उन्हें तीनों पहर पुलिस के जवान सलामी देते हैं. इस मंदिर में पूरी राजसी परंपराओं का भी पालन  किया जाता है।

दमोह जिले  से जुड़ी अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक लाइक और ट्विटर  पर फॉलो करें और हमें  Google समाचार  पर फॉलो करें।

पूरी स्टोरी पढ़िए...

संबंधित ख़बरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button