बीजेपी सांसद ने लोकसभा में उठाया पृथक बुंदेलखंड राज्य का मुद्दा!

bundelkhand rajya demand in loksabha

बुंदेलखंड डेस्क। उतर प्रदेश के हमीरपुर-महोबा-तिंदवारी संसदीय क्षेत्र के सांसद “पुष्पेंद्र सिंह चंदेल” ने लंबे समय से चल रही पृथक बुंदेलखंड राज्य की मांग का मुद्दा संसद में उठाया है। उन्होंने कहा कि बुंदेलखंड क्षेत्र के विकास के लिए अलग राज्य का गठन जरूरी हैं।


सांसद ने कहा कि खनिज संपदाओं से भरपूर बुंदेलखंड पिछड़ेपन ओर गरीबी बेरोज़गारी से जूझ रहा है। सांसद ने लोकसभा में कहा कि देश में सर्वाधिक पिछड़ेपन का दंश झेल रहे बुंदेलखंड का विकास दो राज्यों के बीच में फंसे होने के चलते यहां विकास नहीं हो पा रहा है। 

उत्तरप्रदेश ओर मध्यप्रदेश के बीच बुंदेलखंड बसा हुआ है। यहां प्राकृतिक एवं खनिज संपदाओं की कोई भी कमी नहीं है। पर्यटन की दृष्टि से भी बुंदेलखंड एक महत्वपूर्ण क्षेत्र है, लेकिन अलग राज्य न बनने के कारण यहां के लोग रोजगार व एवं अपने जीवन-यापन के लिए अन्य राज्यों की ओर पलायन करने के लिए मजबूर हैं।

उन्होंने कहा कि इस क्षेत्र के पिछड़ेपन ओर गरीबी से मुक्ति के लिए अलग बुंदेलखंड राज्य का गठन जरूरी बताया है। सांसद द्वारा सदन में बुंदेलखंड राज्य का मुद्दा उठाने से पहले भी यहां के लोग लंबे समय अलग बुंदेलखंड राज्य की मांग कर रहे बुंदेलों को अलग राज्य बनने की उम्मीद जगी है। उनकी इस मांग से बुंदेलखंड राज्य निर्माण के लिए संघर्षरत आंदोलनकारी संगठनों में आत्मविश्वास की लहर दौड़ गई है। 

पूरी स्टोरी पढ़िए...

संबंधित ख़बरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button