बीजेपी के ज्योतिरादित्य सिंधिया और सुमेर सिंह सोलंकी जीते, जाने कांग्रेस का हाल / Rajya Sabha Election Result 2020

rajya sabha elections results 2020


भोपाल | (राज्यसभा चुनाव नतीजे) मध्य प्रदेश में राज्यसभा की तीनों सीटों के परिणाम घोषित हो चुके है। भाजपा प्रत्याशी ज्योतिरादित्य सिंधिया को 56 और सुमेर सिंह सोलंकी को 55 वोट मिले हैं। वहीं, कांग्रेस से प्रत्याशी दिग्विजय सिंह को 57 और फूल सिंह बरैया को 36 वोट मिले हैं। 

भाजपा को दो वोटों का नुकसान हुआ है। गुना से भाजपा विधायक गोपीलाल जाटव ने ज्योतिरादित्य सिंधिया की जगह क्रॉस वोटिंग की है। सुमेर सिंह सोलंकी के पक्ष में दिया गया भाजपा विधायक जुगल किशोर बागड़ी का वोट निरस्त हो गया है। जुगल किशोर रैगांव विधानसभा सीट से भाजपा विधायक हैं। कांग्रेस के एक विधायक का वोट भी निरस्त हुआ है।

भाजपा मेरी मां है, सिंधिया के पक्ष में वोट दिया क्रॉस वोटिंग की खबर जैसे ही फैलना शुरू हुई तो गोपीलाल जाटव ने कहा की- भाजपा मेरी मां है, मैंने अपना वोट सिंधिया को दिया है। मुझे इस पर कोई सफाई नहीं देनी है। बताया जा रहा है कि गोपीलाल जाटव ने वोटिंग के बाद ज्योतिरादित्य सिंधिया को बधाई दी थी। हालांकि, इन दो वोटों से भाजपा को राज्यसभा में कोई नुकसान नहीं होगा। वहीं भाजपा विधायक जुगल किशोर बागड़ी का वोट इसलिए निरस्त हुआ क्योंकि उन्होंने गलत मतदान किया।

दो दिन से विधायकों को दी ट्रेनिंग :

भाजपा और कांग्रेस दोनों ने विधायकों को क्रॉस वोटिंग से बचाने और वोट निरस्त न हो। इसकी कवायद बीते तीन दिन से कर रहे थे। दोनों पार्टियों ने मॉकपोल का आयोजन भी किया और विधायकों को पूरी समझाइश दी थी। इसके बाद दोनों पार्टियों ने ह्विपजारी किया था। इसके बावजूद भाजपा विधायक का वोट क्रॉस होना पार्टी के लिए गंभीर मामला है।

दिग्विजय सिंह को तीन वोट अधिक मिलने से भी सवाल :

कमलनाथ के निवास पर एक दिन पहले 54 विधायकों को दिग्विजय को वोट करने के लिए तय किया गया था। सुबह वोटिंग पर जाने से पहले भी सभी विधायकों को बताया गया था कि उन्हें किसको वोट देना है। ऐसे में दिग्विजय सिंह को 54 की जगह 57 वोट मिलने से तीन और विधायकों ने पार्टी के आलाकमान की बात न मानकर दूसरे प्रत्याशीफूल सिंहबरैया को वोट नहीं किया। कमलनाथ के निवास पर पार्टी बैठक में भी इस बात पर सवाल होंगे।

MP NEWS  से जुड़ी अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक लाइक और ट्विटर  पर फॉलो करें और हमें  Google समाचार  पर फॉलो करें।
पूरी स्टोरी पढ़िए...

संबंधित ख़बरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button