आजादी के ‘अमृत महोत्सव’ की शुरुआत कल पीएम नरेंद्र मोदी करेंगे: केन्द्रीय संस्कृति मंत्री प्रहलाद सिंह पटेल

amrit mahotsav 2021
पीएम नरेंद्र मोदी और प्रह्लाद सिंह पटेल (फ़ोटो: DNA India)

नई दिल्ली। देश की स्वतंत्रता की 75वीं वर्षगांठ ‘आज़ादी का अमृत महोत्सव’ शुक्रवार से आरंभ हो रहा है जिसमें गुजरात में 92 कार्यक्रमों सहित देश के कोने-कोने में 164 कार्यक्रम होंगे। इसका मुख्य कार्यक्रम अहमदाबाद के साबरमती आश्रम में होगा जिसमें प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी भी भाग लेंगे।


 

केन्द्रीय संस्कृति मंत्री प्रह्लाद सिंह पटेल ने आज जानकारी देते हुए बताया की कल साबरमती आश्रम से नाडियाड तक 75 किलोमीटर की पदयात्रा करेंगे जो चार दिन बाद 16 मार्च को पूरी होगी। प्रहलाद पटेल ने बताया कि पीएम मोदी साबरमती आश्रम में आयोजित मुख्य कार्यक्रम में इंडिया एट 75 का प्रतीक चिह्न एवं वेबसाइट जारी करेंगे। वह वाेकल फॉर लोकल के लिए चरखा अभियान, आत्मनिर्भर इनक्यूबेटर का शुभारंभ करने के बाद पदयात्रा को हरी झंडी दिखा कर रवाना करेंगे। 

आज़ादी के 75 वर्ष को #अमृतमहोत्सव #AmritMahotsav के रूप में मनाया जा रहा है।मा प्रधानमंत्री @narendramodi जी के मुख्य आतिथ्य में 12मार्च 2021 को साबरमती से इस महोत्सव का शंखनाद होगा ।प्रधानमंत्री के नेतृत्व में देश के 75 स्थानों पर आज़ादी के अमृत महोत्सव की शुरुआत होगी @PMOIndia

— Prahlad Singh Patel (@prahladspatel) March 10, 2021

इसमें 81 युवकों का एक दल साबरमती से दांडी तक जाएगा। उन्होंने कहा कि संस्कृति मंत्रालय, भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण विभाग, क्षेत्रीय सांस्कृतिक केन्द्र एवं ट्राइफेड देश के 36 राज्यों एवं केन्द्र शासित प्रदेशों के 164 स्थानों पर इंडिया एट 75 के विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन करेगा। इसके अलावा 20 स्थानों पर विशेष कार्यक्रमों का आयोजन किया जाएगा। इन कार्यक्रमों का मुख्य रूप से आयोजन दिल्ली, शिमला, सीवान, पटना, नीलगंज (पश्चिम बंगाल), झांसी, लखनऊ, सारनाथ, जबलपुर, पुणे, दीग महल राजस्थान, पोरबंदर, गोवा, वेल्लोर तमिलनाडु, तिरुपति, संकरम आंध्रप्रदेश, हम्पी कर्नाटक और त्रिचूर केरल, अरुणाचल प्रदेश में पासीघाट, बारामूला एवं सांबा (जम्मू कश्मीर), करगिल एवं लेह (लद्दाख), गंगटोक आदि में किया जाएगा। पटेल ने आगे बताया कि इस पूरे कार्यक्रम की रूपरेखा 20 सप्ताह की कड़ी मशक्कत के बाद तैयार की गयी है।

इसे भी पढ़ें: “आजादी का अमृत महोत्सव” 12 मार्च को दमोह में भी मनाया जायेगा, होगें कई कार्यक्रम!

आपको बता दें कि महात्मा गांधी ने 12 मार्च 1930 को ऐतिहासिक दांडी यात्रा की शुरूआत कि थी, जो 06 अप्रैल 1930 को पूरी हुई थी। यह भी संयोग है कि 15 अगस्त 2022 को आजादी के 75 वर्ष पूर्ण होने के पहले 75 सप्ताह की अवधि 12 मार्च से आरंभ होगी।

पूरी स्टोरी पढ़िए...

संबंधित ख़बरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button